Search
Close this search box.

बारिश के बाद गर्मी से मिली राहत,किसानों के चेहरे खिले

बेहतर न्यूज अनुभव के लिए एप डाउनलोड करें

रणविजय/किशनगंज/ पौआखाली

पिछले दो तीन दिनों से रुक रुककर हो रही बारिश के चलते आमजन को भीषण गर्मी से फिलहाल राहत मिलती नजर आ रही है। जिले का तापमान 44, 46 से घटकर 37 डिग्री सेल्सियस तक आ पहुंची है जिस कारण जिले के लोग हीटवेव के खतरे से खुद को फिलहाल सुरक्षित महसूस कर रहे हैं। बारिश होने से सूखे खेतों और जलाशयों में पानी भर आया है।

इस मौसम में उगाए जाने वाले फसलों को भी बारिश से फायदा पहुंचा है ऐसा खेतिहर किसानों का मानना है। हालांकि मक्का किसानों की थोड़ी सी परेशानियां बढ़ी जरूर है किंतु बारिश होने तथा मौसम शुष्क होने से सभी राहत की सांस ले रहे हैं। गौरतलब हो कि हाल के दिनों में प्रचंड गर्मी से सामान्य जनजीवन अस्त व्यस्त हो चुका था, लोग लू के खतरे से बचने के लिए दिनभर घर और पेड़ों की छांव का सहारा लेने को विवश हो गए थें।

जिले में लोगों ने अबकी बार 46 डिग्री सेल्सियस तक तापमान महसूस किया जो अपने आपमें अधिकतम गर्मी का एक रिकॉर्ड स्तर है। इनसे पहले गर्मियों में यहां 30 से 38 डिग्री सेल्सियस तापमान हुआ करता था। मानसून आने से पूर्व ही इस जिले में लगातार बारिश हो जाया करती थी और जिस वजह यहां का मौसम शुष्क बना रहता था।

अधिक वर्षा के कारण ही इस जिले को दूसरा चेरापूंजी के नाम से भी जाना जाता है। किंतु मनुष्य अपनी आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए पेड़ों पौधों की अंधाधुंध कटाई कर प्रकृति के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं जिस वजह वक्त के साथ साथ जलवायु में भारी परिवर्तन होने लगा है और हमारा यह जिला भी अब इसके चपेट में है। पटना आरा बक्सर गया जहानाबाद जिसे बाकी जिलों की तरह भी प्रचंड गर्मियों का ये हमें अब एहसास करा रही है।

[the_ad id="71031"]

बारिश के बाद गर्मी से मिली राहत,किसानों के चेहरे खिले

error: Content is protected !!
× How can I help you?