Search
Close this search box.

बाबाजी कुटिया में हो रहे महाअष्टयाम में उमड़ी भक्तों की भीड़

बेहतर न्यूज अनुभव के लिए एप डाउनलोड करें

-कीर्तन मंडली द्वारा दिखाया जा रहा है अलग-अलग भक्ति क्षांकी,कई दशक से होता है महाअष्याम

अररिया /अरुण कुमार

 शहर के स्वर्ग स्थल व मोक्ष धाम पनार नदी बाबाजी कुटिया हनुमान मंदिर में चल रहे महाअष्टयाम संकीर्तन से पूरे अररिया शहर का वातावरण भक्तिमय है। यह आयोजन आगामी रविवार तक चलता रहेगा।रविवार को हवन के बाद अष्टयाम का समापन होगी।अष्टयाम शुरू होने से पूर्व कई विद्वानों ने मिल कर रामचरित मानस का पाठ किया।मानस पाठ के बाद से रामधुन संकीर्तन अनवरत जारी है।बाबाजी कुटिया में संध्या काल श्रद्धालुओं की अपार भीड़ उमड़ती है।इससे पूरे शहर के लोग भक्ति के सागर में डूब जाते हैं।इस मे खास बात यह है की कीर्तन मंडली द्वारा देश भक्ति व भक्ति क्षांकी भी दिखाया जा रहा है।

जब हजारों की संख्या में महिला, पुरूष व बच्चे हनुमान मंदिर के पावन स्थल पर पहुंचकर रामधुन की रंग में रंग जाते है।इससे कुटिया की शोभा अवर्णनीय हो जाती है। भक्तों के आने का सिलसिला लगभग आधी रात तक चलता रहता है। इसके बाद लोग वापस घरों को लौट जाते हैं, लेकिन रामनाम की अखंड धुन गूंजती ही रहती है.सुबह से फिर भक्तों का जमावड़ा शुरू हो जाता है।

मां खड्गेश्वरी महाकाली के साधक  साधक नानु बाबा ने बताया कि इस कुटिया मे कई दशक से हरे राम हरे कृष्ण संकीर्तन का लगातार आयोजन किया जा रहा है।प्रत्येक वर्ष होने वाले इस अष्टयाम में जिले के कई प्रखंडों से कीर्तन मंडली शामिल होती है। कई कीर्तन मंडली अपने साथ छोटे छोटे बच्चों को भी लेकर आते है और उनका मनमोहक नृत्य माहौल को आकर्षक व भक्तिमय बना देता है।खासकर संध्या काल कीर्तन मंडली में शामिल विभिन्न देवी देवताओं, भूत पिचाश व पवनसुत के वेश में बाल नर्तकों की गतिविधि अष्टयाम में चार चांद लगा देती है। उनके नृत्य पर श्रोता व दर्शक भाव विभोर होकर झूम उठते हैं।

Leave a comment

बाबाजी कुटिया में हो रहे महाअष्टयाम में उमड़ी भक्तों की भीड़

error: Content is protected !!
× How can I help you?