Search
Close this search box.

सीएम डीएम थाना तक गुहार काम नहीं आया, उतार दिया मौत के घाट

बेहतर न्यूज अनुभव के लिए एप डाउनलोड करें

पुर्णिया /प्रतिनिधि

एक किसान अपनी जमीन बचाने के लिए मुख्यमंत्री से लेकर डीएम, सीओ,थाना तक गुहार लगा लिया, मगर इंसाफ की आस में उसे आज रविवार अहले सुबह विपक्षियों ने मौत के घाट उतार दिया। मृतक शाम को ही थाना के जनता दरबार से वापस आया था और सुबह उसकी हत्या हो गई।घटना बिहार के पूर्णियाँ जिले के भवानीपुर थाना क्षेत्र के झलारी दियारा बहियार की है।

किसान को एक गोली मारी गई है वही शरीर मे कई जगह चाकू के गहरे निशान भी है। मृतक व्यक्ति का पहचान रूपौली थाना क्षेत्र के सिंहपुर दियारा निवासी 62 वर्षीय दहोगी मंडल के रूप में हुई है। मृतक का अपने ही रिश्तेदार से 10 कट्टा जमीन का विवाद चल रहा था, जिसपर विपक्षियों ने कब्जा जमा लिया था।
वहीं पूर्णियाँ से डॉग स्कवाड टीम आकर घटनास्थल पर अपराधियों के निशान की जाँच कर हत्यारे तक पहुँचने का प्रयास कर रही है।


बता दे कि मृतक दहोगी मंडल को जब अंचल से लेकर जिला मुख्यालय तक न्याय नहीं मिला तो वह मुख्यमंत्री जनता दरबार पहुंच जहाँ अपनी आपबीती सुनाई थी।जिसके बाद मुख्यमंत्री ने कार्यवाही का निर्देश दिया था।


सबसे हैरत की बात यह है कि मृतक ने शनिवार को थाना के जनता दरबार मे अपना पक्ष रखते के साथ साथ जान का खतरा का भी अंदेशा जताया था। वही 10 घंटे बाद उसकी हत्या हो गई।

सीएम डीएम थाना तक गुहार काम नहीं आया, उतार दिया मौत के घाट

error: Content is protected !!
× How can I help you?