Search
Close this search box.

राष्ट्रीय लोक अदालत का हुआ आयोजन, वादों का किया गया निपटारा

बेहतर न्यूज अनुभव के लिए एप डाउनलोड करें

किशनगंज /प्रतिनिधि

व्यवहार न्यायालय परिसर में शनिवार को राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया गया । उक्त लोक अदालत में श्री संजय अग्रवाल जिला एवं सत्र न्यायाधीश ने पीठ के सदस्यों एवं अन्य पदाधिकारियों से अपील किया की पक्षकारों को ध्यान में रखते हुए मामलों का निपटारा उदारता पूर्वक एवं नियमानुसार करें तथा सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकार, किशनगंज ओम शंकर ने पक्षकारों से विशेष अनुरोध किया कि वे अपने-अपने वादों का निष्पादन शांति पूर्वक करें ।

राष्ट्रीय लोक अदालत के पीठ के न्यायिक सदस्य श्री अनुराग, प्रधान न्यायाधीश परिवार न्यायालय ,श्री राघवेन्द्र नारायण सिंह, मुख्य न्यायिक दण्डाधिकारी, श्री रोहित श्रीवास्तव, अपर मुख्य न्यायिक दण्डाधिकारी प्रथम ,श्रीमती दिव्या अमल, अनुमंडल न्यायिक दंडाधिकारी,श्री अमृत कुमार सिंह , मुंसिफ प्रथम श्री इंजमामुल हक़ न्यायिक दण्डाधिकारी प्रथम श्रेणी,श्री रंधीर कुमार , न्यायिक दण्डाधिकारी प्रथम श्रेणी, किशनगंज सम्मिलित थे । इन सात पीठों में गैर न्यायिक सदस्य के रूप में जिला विधिक सेवा प्राधिकार के पैनल अधिवक्ता क्रमशः पंकज कुमार, जयदेव समजदार , गाँधी लाल सिंह , मोनिका प्रसाद, संजय कुमार श्रीवास्तव, महादेव प्रसाद दिनकर एवं राज कुमार साहा की प्रतिनियुक्ति की गई थी । राष्ट्रीय लोक अदालत में व्यवहार न्यायालय के कुल 255 मामलें जिसमें दावा वाद के 03 मामलें, अपराधिक शमनीय 177 मामलें, विधुत विभाग के 72 मामलें एवं चेक बाउंस के 03 मामलें सम्मिलित हैं । 03 दावा वादों में कुल- 19,50,000 /- का समझौता हुआ ।

बैंक ऋण के कुल 604 मामले में समझौता राशी कुल रूपये 2,31,05,948/- का तथा टेलीफोन बिल एवं फिनांस कंम्पनी के 45 मामलों में कुल 3,91,956/- रूपये का समझौता हुआ । उक्त राष्ट्रीय लोक अदालत में काफी भीड़ देखी गई । जहाँ जिले के विभिन्न क्षेत्रो से आए पक्षकारों ने अपने-अपने वाद का निष्पादन करवाने में काफी सक्रिय भूमिका निभाई । पक्षकारों को किसी प्रकार की कठिनाई नहीं हो इसके लिए जगह-जगह सहायता केंद्र पर साथ ही प्रत्येक पीठ में एक –एक पारा विधिक स्वंय सेवकों की प्रतिनियुक्ति की गई थी । उक्त राष्ट्रीय लोक अदालत में जिला विधिक सेवा प्राधिकार, किशनगंज के कर्मी के साथ-साथ व्यवहार न्यायालय के कर्मचारीगण ने काफी सक्रीय भूमिका में दिखें ।

राष्ट्रीय लोक अदालत का हुआ आयोजन, वादों का किया गया निपटारा

error: Content is protected !!
× How can I help you?