Search
Close this search box.

KishanganjNews:ऋषि समाज के देवता बाबा दीना एवं भदरी महायज्ञ का हुआ आयोजन

बेहतर न्यूज अनुभव के लिए एप डाउनलोड करें


किशनगंज /प्रतिनिधि

कोचाधामन प्रखंड क्षेत्र कुट्टी पंचायत स्थित भवानीगंज हाट में ऋषि समाज के देवता बाबा दीना भदरी मंदिर प्रांगण में महायज्ञ का भव्य आयोजन किया गया है। रविवार को विश्व हिन्दू परिषद के जिला मंत्री संजय सिंह एवं नीरज मिश्रा बतौर अतिथि महायज्ञ में शामिल हुए ।

ऋषि समाज के द्वारा पुष्पमाला पहना कर उनका स्वागत हुआ । इस अवसर पर आयोजन समिति के प्रमुख में मानिकचंद ऋषि, सुनील कुमार ऋषि ,उमेश कुमार महतो, अजय ऋषि, रोहित महतो, मनु महतो, अनिल शाह ,दीपक ऋषि ,मनोहर ऋषि, पप्पू ऋषि, साजने ऋषि, राजेश ऋषि, शहर बाबू, प्यार ऋषि एवं विलास महतो इत्यादि उपस्थित रहें।


मौके पर विहिप नेता संजय सिंह ने कहा कि हम सभी सनातनी है। उन्होंने कहा सभी दलित समाज सनातनी है और हमारे सनातन समाज के द्वारा यह धार्मिक अनुष्ठान सराहनीय ही नहीं प्रसंशनीय है । उन्होंने कहा कि आज बहुत ऐसे संगठनों की हमारे समाज के दीन -हीन भोले-भाले लोगों पर कू दृष्टि रखते हैं और इनके मजबूरी का फायदा उठाकर कुछ संगठन धर्मांतरण करा रहें ।

इसलिए समय-समय ऐसे आयोजनों से समाज में एक जुटता बनी रहती है और समाज में जागरूकता आती हैं।
विहिप नेता संजय सिंह ने कहा कि यहां के ऋषि समाज ने अपने समाज के देवता जो कलांतर में दो वीर योद्धा दीना एवं भदरी हुए हैं ।अपने कुल देवता के प्रति ऋषि समाज द्वारा आयोजित महायज्ञ की हम भूरी -भूरी प्रशंसा करते हैं। चूंकि यहां इस समाज का योगदान ऐतिहासिक है। बाबा दीना भदरी के कृत को यहां भव्य प्रतिमा प्रदर्शनी के माध्यम से बताया गया है लगातार यज्ञ अनुष्ठान भी हो रहा है और बाबा दीना भदरी के लोक गीत भी लगातार चल रहा है।


गौरतलब है कि ऋषि समाज (मुसहर जाति) के देवता दीना भदरी को लेकर एक लोक गाथा है  कि ऋषि (मुसहर) समाज मे दो वीर योद्धा हुए दीना और भदरी दोनों रिश्ते में भाई थे। दोनों ने असुर से युद्ध लड़ा उसे पराजित किया था।

बाबा दीना भदरी महायज्ञ दिनांक 30 अप्रैल से शुभारंभ हुआ है । इसके शुभारंभ पूर्व यहां 651 क्लश लेकर माताऐं -बहनें शोभायात्रा निकाली थी।इस महायज्ञ का दिनांक 08 मई रोज बुधवार को विधिवत् संपन्न होगा।

[the_ad id="71031"]

KishanganjNews:ऋषि समाज के देवता बाबा दीना एवं भदरी महायज्ञ का हुआ आयोजन

error: Content is protected !!
× How can I help you?