Search
Close this search box.

अखिल विश्व गायत्री परिवार के द्वारा संस्कार महोत्सव का किया गया आयोजन

बेहतर न्यूज अनुभव के लिए एप डाउनलोड करें

किशनगंज/प्रतिनिधि

अखिल विश्व गायत्री परिवार प्रशाखा काशीबाड़ी, कोचाधामन में भव्य प्रज्ञा आयोजन एवं संस्कार महोत्सव के तत्वावधान में विभिन्न प्रकार के बिंदुओं पर गहन विचार किया गया । प्रखंड के अतिरिक्त बहादुरगंज ठाकुरगंज एवं पूर्णिया जिले के परिजनों से भी भाग लिया ।


कोचाधामन प्रखंड संयोजक पंचानंद सिंह की अध्यक्षता में विधि व्यवस्था का निर्धारण किया गया । गायत्री परिवार से मंच संचालन में उमेश चंद्र सिंह देवेन प्रसाद रघुनाथ सिंह सोहन लाल आदि उपस्थित रहे ।


वरिष्ठ प्रज्ञापुत्र श्यामानंद झा राष्ट्रपति पुरस्कार से सम्मानित ने मुख्य रूप से आयोजन को संबोधित करते हुए कहा आज की मूल आवश्यकता व्यक्तित्व निर्माण एवं राष्ट्रीय चरित्र निर्माण की है । आदर्शों और सिद्धांतों पर चलने वाला हमारा देश सदा से विश्व कल्याण के लिए कार्य किया है । जब जब भी धरा पर संकट आया है हमारा मुल्क निस्वार्थ सेवा में अग्रणीय रहा है ।

आनंद के लिए जीवन की गति तथा विचारों के प्रवाह को नियंत्रित कर उन्हें संतुलित करना जरूरी है । यही आध्यात्मिक हमें सहज होना सिखाती है । आध्यात्मिक दृष्टि से मनुष्य के भीतर पशु होने से परमेश्वर होने की संभावना विद्यमान है ।
हमारे देश की मिट्टी बड़ी अदभुत है । यहां की भूमि तपने पर सूरमाओं को जन्म देती है, गल जानें पर संतों को, झुक जानें पर भक्तों को, ज्ञान की मिट्टी से जुड़ जानें पर आर्यभट्ट, वराहमिहिर, रामानुज, आदि महान गौरव को जन्म देती है । इस देश की मिट्टी जब जग जाती है तो गायत्री परिवार के युवाओं को जन्म देती है । आज की महती आवश्यकता है हमें जागने की और 21वीं सदी का महान भारत निर्माण करने की।


जन समूहों के बीच यज्ञ सहित विभिन्न प्रकार के संस्कार कराए गए । प्रज्ञा संगीत के माध्यम से ज्ञानवर्धक संदेश दिया गया । सहयोगियों में पंचानंद सिंह उमेशचंद्र सिंह अंजु झा प्रिया कुमारी सखी लाल दास देवेन प्रसाद अतुल कुमार सुबोध कुमार रीता रानी दुबली देवी बॉबी सिंह बिजली देवी ममता देवी सुखदेव किला आदि मौजूद रहे ।।

अखिल विश्व गायत्री परिवार के द्वारा संस्कार महोत्सव का किया गया आयोजन

error: Content is protected !!
× How can I help you?