Search
Close this search box.

अररिया :भरगामा में प्राइवेट मुस्कान अस्पताल में जच्चा-बच्चा की मौत,परिजनों ने किया हंगामा, कारवाई की मांग 

बेहतर न्यूज अनुभव के लिए एप डाउनलोड करें

अररिया /अरुण कुमार 

अररिया जिले के भरगामा प्रखंड क्षेत्र के सुकेला-सैफगंज मुख्यमार्ग के बगल में भरगामा प्राथमिक सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र से महज 500 मीटर की दूरी पर स्थित प्राईवेट मुस्कान क्लिनिक में बुधवार के देर रात्रि को रधुनाथपुर उत्तर पंचायत के वार्ड संख्या 12 निवासी गुन्देल ततमा की पत्नी रंजू देवी उम्र लगभग 35 वर्ष की डिलीवरी के दौरान जच्चा-बच्चा की मौत हो गई। रंजू देवी के मौत के बाद आक्रोशित परिजनों एवं ग्रामीणों ने गुरुवार के सुबह को लगभग 10 बजे सुकेला-सैफगंज मुख्यमार्ग को भरगामा थाना से महज 500 मीटर की दूरी पर भरगामा पंचायत के वार्ड 7 स्थित प्राइवेट मुस्कान क्लिनिक के समीप मुख्य मार्ग को हीं बांस-बल्ले से घेरकर मृतका रंजू देवी का शव को रोड पर रखकर मुस्कान क्लिनिक के डॉक्टर बिपिन कुमार,नर्स लक्ष्मी कुमारी,स्थानीय चिकित्सक जयकिशुन मेहता के विरोध में घंटों प्रदर्शन किया।

 मिली जानकारी के अनुसार सुकेला-सैफगंज मुख्यमार्ग को घंटों जाम रखने के कारण चारपहिया,दोपहिया इत्यादि वाहनों की लंबी कतार लग गई। वहीं मृतका रंजू देवी के पति गुन्देल ततमा के मुताबिक वे अपनी पत्नी रंजू देवी को रधुनाथपुर उत्तर निवासी झोला छाप चिकित्सक जयकिशुन मेहता के कहने पर प्राइवेट मुस्कान क्लिनिक में बेहतर डिलीवरी के लिए बुधवार को दिन के लगभग 1 बजे भर्ती कराया था। और वे अपनी पत्नी के अच्छे तरीके से सही सलामत डिलीवरी के लिए मुस्कान क्लिनिक में कार्यरत डॉ. बिपिन कुमार एवं नर्स लक्ष्मी कुमारी के आश्वासन पर डॉक्टर बिपिन कुमार,नर्स लक्ष्मी कुमारी,बिचौलिया जयकिशुन मेहता को डिलीवरी के नाम पर 50 हजार रुपया भी दिया था।

 मगर रुपया देने के बाबजूद भी 6 मार्च को रात्रि के लगभग एक बजे डिलीवरी के दौरान जच्चा-बच्चा की मौत मुस्कान क्लिनिक में हो गई। इसके बाद डॉक्टर,नर्स एवं बिचौलिया द्वारा आनन-फानन में अपना जान बचाने के लिए भरगामा अस्पताल का सरकारी ऐम्बुलेंस लाकर मृतका रंजू देवी को पूर्णियां के किसी निजी अस्पताल में भेज दिया। वहीं मृतिका रंजू देवी की बेटी अनन्या कुमारी के अनुसार उसकी मां रंजू देवी की मौत मुस्कान क्लिनिक में हीं हो गई थी। मगर प्राईवेट क्लिनिक के डॉक्टर बिपिन कुमार नर्स लक्ष्मी कुमारी बिचौलिया जयकिशुन मेहता ने उसकी मां रंजू देवी को मृत अवस्था में सरकारी ऐम्बुलेंस में चढ़ाकर पूर्णिया भेज दिया। 

बता दें कि मृतका की बेटी अनन्या कुमारी ने भी चिकित्सक,नर्स एवं बिचौलिया जयकिशुन मेहता पर ईलाज के नाम पर बहला फूसलाकर 50 हजार रुपया लेने का आरोप लगाया है। इस घटना की जानकारी मिलने के बाद भरगामा थाना पुलिस घटना स्थल पर पहुंचकर ग्रामीणों एवं परिजनों को समझा-बुझाकर मृतिका रंजू देवी के शव को परिजनों को सौंपकर काफी मशक्कत के बाद सुकेला-सैफगंज मुख्यमार्ग पर लगे जाम को हटाया। 

वहीं इस संबंध में सिविल सर्जन डॉक्टर विधान चंद्र सिंह ने कहा कि उन्हें इस घटना को लेकर पीड़िता के परिवारों के द्वारा कोई लिखित आवेदन नहीं दिया गया है,अगर पीड़िता के परिवारों के द्वारा लिखित आवेदन दिया जाता है तो वे दोषी डॉक्टरों के विरुद्ध कड़ी से कड़ी कार्रवाई करेंगे।

अररिया :भरगामा में प्राइवेट मुस्कान अस्पताल में जच्चा-बच्चा की मौत,परिजनों ने किया हंगामा, कारवाई की मांग 

error: Content is protected !!
× How can I help you?