Search
Close this search box.

रेड क्रॉस सोसाइटी के द्वारा छात्र संवाद कार्यक्रम का किया गया आयोजन

बेहतर न्यूज अनुभव के लिए एप डाउनलोड करें

किशनगंज /प्रतिनिधि

इंडियन रेड क्रॉस सोसाइटी के द्वारा छात्र संवाद कार्यक्रम का आयोजन किया गया। आयोजित कार्यक्रम में  परीक्षा के तनाव से निपटने की जानकारी बच्चो को दी गई । एमजीएम मेडिकल कॉलेज के सभागार में कार्यक्रम का आयोजन किया गया । जिला पदाधिकारी तुषार सिंगला डीटीओ अरुण कुमार डीईओ सुभाष कुमार गुप्ता रेडक्रॉस के चेयरमेन डा0 इच्छित भारत एवं रेडक्रॉस के सचिव आभाष कुमार साहा ने द्वारा दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का विधिवत शुभारंभ किया । रेडक्रॉस के चेयरमेन डॉ0 इच्छित भारत एवं सचिव मिक़्क़ी साहा ने जिला पदाधिकारी को शॉल ओर पौधा देकर स्वागत किया ।

संवाद कार्यक्रम में बिहार बोर्ड एवं सीबीएसई बोर्ड व विभिन्न विधालयों से 500 सौ से अधिक छात्र व छात्राओं ने भाग लिया । परीक्षा से पहले जिला पदाधिकारी तुषार सिंगला ने बच्चो को खास टिप्स दिए और कहा की परीक्षा से घबराएं नहीं ।वही उन्होंने अपने अनुभव भी साझा किए।



जिलाधिकारी तुषार सिंगला ने छात्र संवाद कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि बोर्ड की परीक्षा हो या अन्य कोई प्रतियोगी परीक्षाएं सभी छात्र भय मुक्त होकर परीक्षा दे । परीक्षा में दवाब में आकर कोई कार्य न करे । जिलाधिकारी ने बच्चों के मनोबल को बढ़ाते हुए कहा की  छात्रों को निर्भीक निडर ओर भयमुक्त होकर परीक्षा देना चाहिये ।इस दौरान उन्होंने कहा की सफलता के लिए संयम नियम और अनुशासित जीवन जरूरी है उन्होंने छात्रों को देश का भविष्य निर्माता बताया और उन्हें परीक्षा की तैयारियों के लिए ज्ञानवर्धक सलाह देकर उनकी शंकाओं का समाधान किया .


उन्होंने अपने जीवन की प्रमुख घटनाओ का उल्लेख करते हुए कहा कि मैं पंजाब के बॉर्डर से आता हूँ मेरी शिक्षा गावं के सरकारी स्कूल में हुई है । मैने कभी भी सीबीएसई स्कूलों में नही पढ़ा स्कूल के दौरान सभी धर्मों के साथ मिलकर रहते थे एक दूसरे से का सहयोग मिलता था । स्कूल समाज ओर माता पिता से हमें बहुत कुछ मिला है । दूसरे के अंदर सत्कार व सेवा करने की भावना होती है उससे भी जीवन मे बहुत कुछ सीखने को मिलता है । उन्होंने कहा कि जब कारगिल का युद्ध चल रहा था तब मैं नौ साल का था । उस परिवेश में पले बढ़े और समय आपको बहुत कुछ सीखा देता है । उन्होंने नारी सशक्ति करण की दिशा में लड़कियों को निडर रहने की बात कही कहा कि आप अपनी बातों को पूरी मजबूती के साथ रखे ।


वही डीटीओ अरुण कुमार ने कहा कि स्वस्थ शरीर में स्वस्थ मस्तिष्क का निवास होता है। छात्र-छात्राओं को अधिक बोझ दिमाग पर नहीं डालना चाहिए। सफलता या असफलता से भयभीत नहीं होना चाहिए । उन्होंने स्कूली बच्चों को यातायात नियमों के प्रति जागरूक रहने के लिये यातायात के नियमो को पालन करने की बात कही ।
कार्यक्रम के दौरान जिलाधिकारी ने यातायात नियमों के पालन का संकल्प करवाया । उन्होंने कहा कि बच्चों को बस में तभी चढ़ें या उसके अंदर से तभी उतरें, जब बस पूरी तरह रुक जाए.


डीईओ सुभाष कुमार गुप्ता ने बच्चों को सम्बोधित करते हुए कहा कि परीक्षा के दौरान अपना संयम और शांति बनाए रखें । तनाव और चिंता को कम करने के लिए आवश्यकतानुसार गहरी साँसें ओर अच्छी नींद पूरी लें। सकारात्मक आत्म-चर्चा आपके आत्मविश्वास को बढ़ा सकती है और तनाव से निपटने में आपकी सहायता कर सकती है। अपने आप को सकारात्मक लोगों से घेरें और अपनी व्यक्तिगत शक्तियों पर ध्यान केंद्रित करें ।


जबकि रेड क्रॉस के चेयरमेन डॉ0 इच्छित भारत ने कहा कि
समय प्रबंधन के साथ  तैयारी करे। उन्होंने कहा की किसी भी परीक्षा की तैयारी के लिए समय का प्रबंधन जरूरी है। रिवीजन के साथ लिखने का अभ्यास करना भी आवश्यक है। जब परीक्षा प्रस्तुत होती है तो आप अपने आप को इतना घबड़ा जाते हैं कि आप सबसे आसान प्रश्नों के उत्तर भी नहीं दे पाते हैं।उन्होंने बच्चों को खास टिप्स देते हुए कहा कि आप एग्जाम से परीक्षा की अवधि का पालन करते हुए कॉपी में लिखने का अभ्यास जरूर करे । ऐसा लगे कि आप एग्जाम हाल में बैठे हुए है । इससे आपका मनोबल के साथ आत्मबोध प्रखर होगा ।


रेडक्रोस के सचिव मिक़्क़ी साहा ने सभी का धन्यवाद व्यक्त करते हुए कहा कि छात्र संवाद कार्यक्रम में शहर व प्रखण्डों से सरकारी और प्राइवेट स्कूलों के बच्चों ने बढ़चढ कर भाग लिया कार्यक्रम के दौरान जिलाधिकारी व विशेषयज्ञ के द्वारा जो टिप्स व मार्गदर्शन दिए है इससे अमूमन बच्चों का आत्मविश्वास बढ़ेगा ।


बच्चे भय व तनावमुक्त होकर परीक्षाओं में बेहतर प्रदेशन करेगा । रेडक्रॉस के द्वारा समाज में लोगों को जागरूकता के लिये कई कार्यक्रम का आयोजन करेगा ।
छात्रों ने बताया कि भविष्य में होने वाली प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए इस प्रकार की परीक्षाएं आयोजित होती रहनी चाहिए, इससे छात्रों को स्वयं का मूल्यांकन करने में सहायता मिलती है।कार्यक्रम में मुख्य रूप से रेडक्रॉस के चेयरमेन डॉ0 इच्छित भारत रेडक्रॉस के सचिव मिक़्क़ी साहा रेडक्रॉस मैनेजिंग कमिटी के सदस्य धनन्जय जायसवाल विशाल कुमार सुमित साहा सैयद शफा ,सौरभ कुमार छात्र- छात्रा व शिक्षक मौजूद थे ।

रेड क्रॉस सोसाइटी के द्वारा छात्र संवाद कार्यक्रम का किया गया आयोजन

error: Content is protected !!
× How can I help you?