Search
Close this search box.

क्लब फुट से ग्रसित चार बच्चों के सफल ऑपरेशन के लिए भेजा गया जेएलएनएमसीएच भागलपुर

बेहतर न्यूज अनुभव के लिए एप डाउनलोड करें

किशनगंज/प्रतिनिधि

बच्चे का जन्म पूरे परिवार के लिए खुशियों से भरा होता है। पर जन्म से ही अगर बच्चा किसी जानलेवा रोग से ग्रसित हो तो परिवार के लिए यह सबसे मुश्किल घड़ी हो जाती है। जिले के ठाकुरगंज प्रखंड के 03 माह का बच्चा अंकुश कुमार , 03 माह का नूर सलाम , 16 माह की बच्ची अजमत आरा एवं कोचाधामन प्रखंड के 03 माह की बच्ची खतीजा एवं 01 माह के बच्चे फैज़ कमाली ऐसी ही बीमारी से ग्रसित मिले जिनका जन्म से ही पैर मुड़ा हुआ था।

जो समय के साथ बढ़ता ही जा रहा था। इसे चिकित्सकीय भाषा में क्लब फुट कहते हैं। सही समय पर इसका ऑपरेशन नहीं करवाने की स्थिति में यह जिंदगी भर अपाहिज बना सकता है। मामले की जानकारी मिलने पर सिविल सर्जन डॉ. राजेश कुमार ने जिला में कार्यरत राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के डीईआईसी द्वारा इसे जेएलएनएमसीएच भागलपुर में भेजा जहां इनका सफल ऑपरेशन होगा ।

जिला समन्वयक पंकज कुमार शर्मा ने बताया कि सभी बच्चो के अभिभावक ने बताया कि जन्म के बाद से ही बच्चे का पैर मुड़ा हुआ था और समय के साथ बढ़ता ही जा रहा था। शुरुआत में इसे नजरअंदाज कर दिया। परंतु आरबीएसके की टीम के द्वारा बच्चे को चिह्नित किया गया तथा डीईआईसी भेजा गया। यहां चिकित्सक द्वारा जांच के बाद बच्चे को क्लब फुट से ग्रसित पाया गया और इसके इलाज के लिए जेएलएनएमसीएच भागलपुर भेजा गया जहां ऑपरेशन कर के इसे ठीक किया जायेगा ।

इससे उबरने के लिए ऑपरेशन ही एकमात्र विकल्प होता है। सिविल सर्जन के आदेश से बच्चे को तुरंत एम्बुलेंस के माध्यम से जेएलएनएमसीएच भागलपुर भेजा गया। वहां आरबीएसके समन्वयक के देखरेख में सर्जन से बच्चे का सफल ऑपरेशन करवाया जायेगा ।

ऑपरेशन के बाद सभी प्रकार की जांच सही आने के बाद फिर एम्बुलेंस द्वारा बच्ची व उनके परिजन को घर तक पहुंचाया जायेगा । इस पूरी प्रक्रिया में परिजनों को किसी तरह का कोई भी खर्च नहीं करना पड़ेगा । ऑपरेशन के बाद भी बच्चे का फीडबैक के लिए टीम के द्वारा उनके घर जाकर नियमित जानकारी ली जाती है।

[the_ad id="71031"]

क्लब फुट से ग्रसित चार बच्चों के सफल ऑपरेशन के लिए भेजा गया जेएलएनएमसीएच भागलपुर

error: Content is protected !!
× How can I help you?