Search
Close this search box.

जिले के सभी दिव्यांगों को यूडीआईडी कार्ड उपलब्ध कराने के उद्धेश्य से प्रखंडों में प्रशिक्षण प्रारंभ

बेहतर न्यूज अनुभव के लिए एप डाउनलोड करें

प्रमाणपत्र के ऑन लाइन सत्यापन व यूडीआईडी कार्ड निर्गत किये जाने को लेकर प्रखंडवार किया जायेगा सर्वे

किशनगंज/ प्रतिनिधि

जिला पदाधिकारी तुषार सिंगला के निदेशानुसार किशनगंज जिलांतर्गत सभी दिव्यांगजनों को शत प्रतिशत यूडीआईडी निर्गत किये जाने को लेकर जिले में आज 01 जुलाई को बहादुरगंज प्रखंड में प्रारंभ हुआ जो आगामी 08 जुलाई तक प्रखंडवार कराया जायेगा।
आज दिनांक 01/07/24 को बहादुरगंज प्रशिक्षण में प्रशिक्षण का आयोजन किया गया जिसमें सर्वे में संलग्न कर्मियों को दिव्यंगता अधिकार अधिनियम 2016 के अनुसार 21 प्रकार के दिव्यंगता को पहचानने के लक्षण के बारे में बताया गया।

विदित हो की जिलाधिकारी तुषार सिंगला के द्ववारा पत्र जारी कर दिए गये आवश्यक दिशा निर्देश के आलोक में सभी प्रखण्डों में यूडीआईडी कार्ड बनाने के लिए संलगन कर्मियों यथा पंचायत सचिव, विकास मित्र, महिला पर्वेक्षिकाओं तथा जीविका अंतर्गत कम्युनिटी कोऑर्डिनेट को प्रशिक्षण दिया जाना है। उक्त सर्वे कार्य को आगामी 20 जुलाई तक पूरा करने लक्ष्य रखा गया है उपविकास आयुक्त को इसका वरीय प्रभारी बनाया गया है।

सिविल सर्जन डॉ राजेश कुमार ने बताया कि जिले के सभी दिव्यांगजनों का ऑनलाइन दिव्यांगता प्रमाणीकरण सुनिश्चित करने के लिए यूडीआईडी कार्ड निर्गत किया जाना है। विभाग द्वारा जारी ऑफलाइन दिव्यांगता प्रमाण पत्र राज्य में मान्य नहीं है। इसको ऑनलाइन सत्यापित करना अनिवार्य है। ऑफलाइन दिव्यांगता प्रमाण पत्र को ऑनलाइन नहीं होने के कारण यूडीआईडी कार्ड के अभाव में दिव्यांगजन सरकार की कल्याणकारी योजनाओं का लाभ प्राप्त करने से वंचित रह जाते हैं। जिले के सभी प्रमाणीकृत दिव्यांगजनों का शत प्रतिशत यूडीआईडी कार्ड बनाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

प्रखंडवार आयोजित होने वाले इस प्रशिक्षण कार्य की जिम्मेदारी संबंधित प्रखंड के बीडीओ को सौंपी गयी है| प्रशिक्षण कार्य को शतप्रतिशत सफल करने के लिए प्रखंड पंचायती राज पदाधिकारी , प्रखंड कल्याण पदाधिकारी , बाल विकास परियोजना पदाधिकारी , महिला पर्यवेक्षिका , पंचायत सचिव , विकास मित्र का प्रशिक्षण सिविल सर्जन द्वारा नामित चिकित्सक दल द्वारा दिया जायेगा।

पंचायत स्तर पर प्रशिक्षण की जिम्मेदारी पंचायत सचिव को दिया गया है। पंचायत सचिव संबंधित पंचायत में आशा दीदी, जीविका, कचहरी सचिव आदि को प्रशिक्षण देंगे और पंचायत स्तर पर सर्वे को सफल बनाने हेतु उत्तरदाई होंगे। सर्वे में सभी दिव्यांगजनों का दिव्यंगता के आधार पर सूची तैयार कराया जाएगा। तत्पश्चात्, सर्वे के उपरांत उनको कैंप के माध्यम से दिव्यांग परीक्षण कराते हुए यूडीआईडी कार्ड निर्गत किया जाएगा।

आज संपन्न हुए प्रशिक्षण में सहायक निदेशक जिला दिव्यांगजन सशक्तिकरण कोषांग मो मिहाजुद्दीन, प्रखंड विकास पदाधिकारी सुरेन्द्र तांती के साथ प्रखंड पंचायती राज पदाधिकारी, प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी, पंचायतों के पंचायत सचिव, विकास मित्र के साथ अन्य कर्मी उपस्थित रहे।

[the_ad id="71031"]

जिले के सभी दिव्यांगों को यूडीआईडी कार्ड उपलब्ध कराने के उद्धेश्य से प्रखंडों में प्रशिक्षण प्रारंभ

error: Content is protected !!
× How can I help you?