Search
Close this search box.

पूर्णिया:अपहरण मामले के मुख्य गवाह झारखंड पुलिस जवान की इलाज के दौरान हुई मौत

बेहतर न्यूज अनुभव के लिए एप डाउनलोड करें

 

दबंगों के द्वारा निर्मम तरीके से की गई थी पिटाई। जिंदगी से जंग हार गया मुकेश ।पुलिस ने एक आरोपी को किया गिरफ्तार 

रिपोर्ट :प्रतिनिधि 

आखिरकार झारखंड पुलिस का जवान जिंदगी से जंग हार गया.बता दे की पूर्णियाँ जिले के भवानीपुर थाना क्षेत्र के माधवनगर में अपने घर छठ की छुट्टी में पहुंचे  साहेबगंज पुलिस बल के जवान मुकेश यादव की आज इंसाफ की आस में मृत्यु हो गई। गौरतलब हो की बीते 19 नवंबर को घर के पास ही कुछ असमाजिक तत्त्वों ने उनपर हमला कर बुरी तरह घायल कर दिया था। जिसके इलाज में परिजन ने अपनी जमीन तक बेच दी।

  मगर उन्हें बचाया नहीं जा सका।हैरत की बात यह है कि 10 दिनों तक पुलिस ने हमलावरों पर कोई करवाई नहीं की, वही हालत बिगड़ने के बाद सिर्फ एक आरोपी को पकड़ कर अपने कार्य से भवानीपुर पुलिस इतिश्री कर लिया। 
वहीं जैसे ही आरोपियों को पुलिस जवान की मौत की खबर लगी, सभी घर से फरार हो गए। जिसको लेकर परिजनों में आक्रोश देखा जा रहा है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक मृतक जवान अपहरण के एक केस में मुख्य गवाह था। गवाही देने से पहले आरोपियों ने उसे रास्ते से हटा दिया।

वही इस घटना के बाद से अन्य गवाह भयभीत है। गवाहों का कहना है कि जब एक पुलिस दूसरे पुलिस को इंसाफ नहीं दिलवा पायी तो आमलोगों के साथ क्या इंसाफ करेगी।मृतक के भाई ने बिलख बिलख कर रोते हुए बताया की मृतक मुकेश के तीन छोटे छोटे बच्चे अब उनका क्या होगा ।

मृतक के भाई ने कहा की अब दबंगों के द्वारा उन लोगो को भी धमकी दी जा रही है और उन्हें इंसाफ चाहिए ।वही मौके पर मौजूद पुलिस अधिकारी ने कहा की एक आरोपी की गिरफ्तारी हुई है और जल्द ही सभी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। 

पूर्णिया:अपहरण मामले के मुख्य गवाह झारखंड पुलिस जवान की इलाज के दौरान हुई मौत

error: Content is protected !!
× How can I help you?